Saturday, 3 December 2016

indian aunty bhabhi sleeping Movies

indian aunty bhabhi sleeping Movies

वो सर झुकाकर सुनती रही! और थोड़ी ही देर में! उसके आँसू निकल गए। मैंने प्यार से उसके सर पर हाथ फेरा और कहा- कोई बात नहीं! तुम चिंता मत करो मैं पूरी करा दूँगा!

दिव्या का मेरे घर पर आना
उसी शाम को! वो फिर घर पर आई, लेकिन आज कुछ लेट आई थी। कुछ 7:30 बजे करीब!

मैंने पूछा- इतना लेट क्यों आई?

वो बोली- घर पर कोई नहीं था! इसलिए लेट हो गई!

मैंने कहा- कोई बात नहीं! तुम बैठो! मैं अभी आता हूँ! और उसको अध्याय का पहला सवाल समझा कर, मेडिकल की ओर चला गया। और जब लौटकर आया! तो वो धीरे धीरे रो रही थी।

मैंने उसके गालों को पकड़ कर कहा- क्या हुआ दिव्या?

वो बोली- सर, मेरी वजह से! आपको बहुत परेशानी हो रही है।

नरम नरम चूचियों को छूने का मजा
मैंने कहा- इसमें! परेशानी की कोई बात नही है! तुम चिंता मत करो! मैं सारा अध्याय पूरा करा दूँगा! तो वो फिर से काम करने लगी।

मैंने धीरे से उसकी ओर देखा! मैंने धीरे से उसके पीछे जाकर उसके चूचियों को दबा दिया! उसको तो जैसे करंट लग गया हो!

indian aunty bhabhi sleeping Movies

1 comment: